Sunday, July 1, 2012

ख़ामोशी



कहने  को  तो  तुमने  कुछ  कहा  नहीं,
पर ख़ामोशी  को  भी  तुम  जुबान  देगायी..

No comments :